When will private schools and colleges open in Jharkhand from February 4, 2022:
JAC Board 10th & 12th Jharkhand News Today

झारखंड में 4 फरवरी से प्राइवेट स्कूल और कॉलेज कब खुलेंगे 2022 : When will private schools and colleges open in Jharkhand from February 4, 2022:

झारखंड में 4 फरवरी से प्राइवेट स्कूल और कॉलेज कब खुलेंगे 2022

झारखंड में अब 22 महीने बाद अब सभी स्कूल अपने निर्धारित समय पर ही खुलेंगे और अपने समय अनुसार ही सभी स्कूलों में छुट्टी हो गई और फिर से सभी स्कूलों में ऑफलाइन पढ़ाई शुरू हो जाएगी। 
अगर किसी स्कूल में बच्चों की संख्या ज्यादा होती है। तो उसको दो शिफ्ट में चलेंगे और बच्चों को बैठाने में दिक्कत होगी इसलिए जेसीबी स्कूल में बच्चों की संख्या अधिक होगी वहां दो शिफ्ट में स्कूल चलाई जाएगी और फिर वहां के प्रधानाध्यापक तय करेंगे की दो शिफ्ट में स्कूल चलाने के लिए कौन से समय में कितने बच्चे रहेंगे और फिर स्कूल के प्रधानाध्यापक जिला शिक्षा पदाधिकारी को जानकारी देंगे और हर क्लास के बच्चों को थोड़ी-थोड़ी देर में छुट्टी दे जाएगी क्योंकि ज्यादा भीड़ एक साथ ना जमा करें। 
स्कूल में सुबह प्रार्थना या प्रोग्राम अभी नहीं होगी और स्कूल में क्लास रूम में हर एक छात्र 6 सीट की दूरी पर बैठेंगे और शिक्षक इस आदेश का अवश्य पालन करें और अपने छात्र एवं छात्राएं को कोरोना के बीमारी से बचाएं और सभी शिक्षक कोरोना टीका के दोनों डोज अवश्य ले और सभी शिक्षकों को बायोमेट्रिक हाजिरी बनानी होगी अगर किसी आपात स्थिति में निबटने के लिए हेल्पलाइन नंबर स्थानीय स्वास्थ्य कर्मियों नंबर भी जारी किए जाएंगे। 
कोरोना महामारी के चलते हर एक स्कूल में हैंड सेनीटाइजर और हाथ धोने के लिए साबुन की व्यवस्था की जाएगी स्कूल के द्वार पर ही यह सब सारी व्यवस्था होगी साथ ही स्कूल में प्रवेश करने से पहले सभी बच्चों को थर्मल स्कैनर किया जाएगा और बच्चों को स्कूल में ही नियमित रूप से जांच की जाएगी और समय-समय पर उस जिले के जिला प्रशासन की ओर से शिक्षकों में बच्चों की कॉमेडी जांच की जाएगी और जो बच्चे हॉस्टल में रहते हैं वह सब सारे बच्चे हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर सकते हैं। और आसपास के बच्चों के लिए अपने माता पिता की लिखित एक पत्र लाना होगा माता पिता के अनुमति के बिना स्कूल में बच्चों की प्रवेश नहीं होगी। 
जो बच्चे यह शिक्षक बीमार रहेंगे वह सब स्कूल नहीं आएंगे और बच्चे घर पर रहकर ही पढ़ाई कर सकते हैं।

झारखंड में स्कूल तो खुलेंगे लेकिन वहां आने वाले सभी छात्रों को हाजिरी नहीं होगी क्यों? 

झारखंड राज्य में सभी बच्चों के लिए कोचिंग और आज स्कूल खोलने की अनुमति झारखंड राज सरकार ने दे दी है। लेकिन कोचिंग और स्कूल के सभी शिक्षक को कोरोना के दोनों डोज लेना आवश्यक है और सभी बच्चों को मास्क पहन कर आना अनिवार्य है। और कोचिंग संस्थान एवं स्कूल अपने निर्धारित समय पर ही खुलेंगे When will private schools 

स्कूल और उच्च शिक्षा संस्थान जैसे कॉलेज यूनिवर्सिटी आईटीआई कॉलेज खुलेंगे लेकिन इसकी दिशा निर्देश क्या होगी। 

झारखंड राज्य में सभी कोचिंग स्कूल कॉलेज यूनिवर्सिटी आईटीआई कॉलेज खोलने की अनुमति तो मिल गई है। लेकिन वहां भी सभी शिक्षकों को कोरोना टीका के दोनों डोज लेना आवश्यक है। और वहां भी सभी छात्र एवं छात्राएं को अपने सुरक्षा हेतु मास्क पहनकर आए और अपने साथ एक सैनिटाइजर अवश्य रखें और सुरक्षित रहे डिजिटल वॉच ऑनलाइन क्लासेस चलती रहेगी लेकिन ऑनलाइन क्लासेस करने के बाद भी छात्रों की उपस्थिति अमान्य होगी सामूहिक सांस्कृतिक गतिविधियां प्रतिबंधित रखी गई है। 
हॉस्टल में रहने वाले छात्रों के लिए भी सुविधा दी गई है। ऑफलाइन क्लास लेने वाले छात्र की हॉस्टल खुलेंगे और झारखंड में सभी जीम खुलेंगे और खिलाड़ियों की स्विमिंग पूल और स्टेडियम भी खोलने की अनुमति दे दी गई है। लेकिन स्टेडियम में दर्शक को आयोजित होने वाले मैच देखने की अनुमति अभी नहीं दी गई है। When will private schools 
राज सरकार ने गृह कारा एवं आपदा प्रबंधन विभाग कोविड संबंधित गाइडलाइंस को लेकर मंगलवार को आदेश जारी कर दिया है झारखंड के 7 राज्यों में जैसे राँची, पूर्वी सिंहभूम, देवघर, चतरा, सरायकेला, बोकारो, और सिमडेगा में इन सभी जिलों में कक्षा 9वीं से लेकर 12वीं तक के छात्राओं के लिए ऑफलाइन क्लासेस करने की अनुमति दे दी गई है। और बाकी बचे जिलों में कक्षा पहली से लेकर 12वीं तक के छात्र एवं छात्राएं को अपने आवासीय विद्यालय एवं स्पोर्ट्स ट्रेनिंग संचालित करने की अनुमति दे दी गई है। When will private schools 
स्कूल और प्राइवेट कोचिंग संस्थानों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सभी छात्र छात्राएं को अपना क्लास करना होगा और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए एसओपी जारी किया गया है। यह आदेश आपातकाल के लिए अगले आदेश के लागू होने तक के लिए कर दिया गया है। 
गृह कार्य एवं आपदा प्रबंधन विभाग के आदेश के मुताबिक ऑफलाइन क्लास में उपस्थित सभी छात्र एवं छात्राएं के लिए एक गाइडलाइन रखा गया है और स्कूल में उपस्थित सभी छात्र छात्राओं के अपने माता पिता के अनुमति जरूरी है। और स्कूल में किसी भी तरह के सांस्कृतिक संबंधी प्रोग्राम करने की अनुमति अभी नहीं मिली है। When will private schools 

किस-किस जिले में ऑफलाइन टेस्ट परीक्षा लेने की अनुमति अभी नहीं मिली है और कितने राज्य में ऑफलाइन टेस्ट परीक्षा लेने की अनुमति है। 

झारखंड सरकार ने शिक्षा मंत्री ने झारखंड के इन 7 जिलों में अभी ऑफलाइन टेस्ट परीक्षा लेने की अनुमति नहीं दी है लेकिन अन्य 17 जिलों में ऑफलाइन टेस्ट परीक्षा लेने की अनुमति दी गई है कौन-कौन से जिलों में ऑफलाइन टेस्ट परीक्षाएं नहीं ली जाएगी जैसे मैं रांची पूर्वी सिंहभूम देवघर चतरा सरायकेला बोकारो और सिमडेगा यह सभी जिलों में ऑफलाइन परीक्षाएं लेने की अनुमति नहीं दी गई है और बाकी जिलों में ऑफलाइन समय-समय पर परीक्षाएं ले सकते हैं और वहां भी सभी शिक्षकों के लिए कोरोना टीका के दोनों डोज प्लेन आवश्यक है

Leave a Reply

Your email address will not be published.